विश्व वैष्णव सेवा संघ में आप सभी का स्वागत हे.

विश्व वैष्णव सेवा संघ एक आध्यात्मिक तथा सामाजिक संघठन हे इस संघ की अध्यक्षता परम पूज्य गोस्वामी श्री आनंद बल्लभ जी महाराज द्वारा सुचारु रूप से प्रतिदिन सेवा दी जाती हे. विश्व वैष्णव सेवा संघ के अंतर्गत बिहारी जी की सेवाएं पूरे विश्व में स्थित भक्तजनो को दी जाती हे . तथा महाराज जी के द्वारा कथा आयोजन भी किया जाता हे. वैष्णव सेवा के अंतर्गत भक्तजन ब्रज यात्रा का भी लाभ उठाते हे . संसथान की तरफ से भक्तजनो के लिए चौरासी कोस ब्रज यात्रा की पूरी व्यवस्था भी की जाती हे.

विश्व वैष्णव सेवा संघ के अंतर्गत सबसे मत्वपूर्ण सेवाओं में से एक सेवा हे प्रोजेक्ट प्रसादम, जिसके अंतर्गत प्रतिदिन वृन्दावन एवं पूरे ब्रज क्षेत्र में सभी जरूरत मंद लोगो को सुबह शाम भोजन वितरित किया जाता हे यह सेवा प्रतिदिन संघ द्वारा की जाती हे

कथा आयोजन

आचार्य श्रीआनंदवल्लभजी महाराज को वक्तृत्व कला यूँ तो विरासत से ही प्राप्त है किन्तु श्री मद्भागवत आदि ग्रंथों के गूढ़ तत्वों की रसमयी विवेचना तथा गंभीर ओजस्वी शैली श्रीमद्भागवत - विश्व के परमवंदनीय महापुरुष से प्राप्त करने का सौभाग्य लाभ प्राप्त हुआ है |

प्रोजेक्ट प्रसादम

िश्व वैष्णव सेवा संघ के अंतर्गत सबसे मत्वपूर्ण सेवाओं में से एक सेवा हे प्रोजेक्ट प्रसादम, जिसके अंतर्गत प्रतिदिन वृन्दावन एवं पूरे ब्रज क्षेत्र में सभी जरूरत मंद लोगो को सुबह शाम भोजन वितरित किया जाता हे यह सेवा प्रतिदिन संघ द्वारा की जाती हे

ब्रज यात्रा

ब्रज भूमि भगवान श्रीकृष्ण एवं उनकी शक्ति राधा रानी की लीला भूमि है। यह चौरासी कोस की परिधि में फैली हुई है। यहां पर राधा-कृष्ण ने अनेकानेक चमत्कारिकलीलाएं की हैं। सभी लीलाएं यहां के पर्वतों, कुण्डों, वनों और यमुना तट आदि पर की गई। पुराणों में ब्रज भूमि की महिमा का विस्तार से वर्णन किया गया है। ऐसा माना जाता है कि राधा-कृष्ण ब्रज में आज भी नित्य विराजते हैं।

आगामी कार्यक्रम

  • 12 अगस्त बुधवार 2020
    श्री जन्माष्टमी उत्सव
    • रात्रि 12:00 बजे महाभिषेक
    • लगभग 2:00 बजे रात्रि मंगला आरती मंगला आरती वर्ष में मात्र आज ही के दिन होती है विशेष सेवा पंचामृत पाग एवं पंजीरी भोग
  • 13 अगस्त गुरुवार 2020
    नंदोत्सव श्रृंगार आरती दधिकांदौ
    • बुधवार 2020 12:00 बजे
    • विशेष सेवा खिलौने आभूषण एवं भेंट
  • 15 अगस्त शनिवार 2020
    जया एकादशी व्रत
    • शनिवार 2020 10:00 बजे
    • विशेष सेवा साधु संतों को फल एवं फलाहार सेवा

Support Our Project Prasadam

एक आंकड़े के अनुसार भारत में लगभग २० करोड़ ऐसे लोग हैं जिन्हें भरपेट भोजन भी उपलब्ध नहीं | ऐसे में हम कुछ वंचितों को भी भोजन करा सकें तो यह साक्षात् अपने इष्ट और राष्ट्र की सच्ची सेवा ही होगी | प्रतिदिन की सेवा में ३१०० रु. के अतिरिक्त आने वाले व्यय की पूर्ति हेतु किसी भी खाद्य सामिग्री , सेवा साधन अथवा नकद धनराशि प्रदान करके आप संचालन समिति के सदस्य भी बन सकते हैं

INR
  • 101.00
  • 251.00
  • 1100.00
  • 2100.00
  • 3100.00
Donate Now
Food For Poor
img

Our Progress


1999

This Organization made for many causes and this year we have start to plot our causes to this sansthan, Maharaj ji Who is founder of this organization name ( Shree anand ballabh goswami ) has been started there view of this sansthan

Learn More

Upcoming Event

Festivals Of Krishna Janmashtami

Meet this transient world with neither grasping nor fear,trust the unfolding of life,and you will attain true serenity.

श्री बाँकेबिहारी जी महाराज की सेवायें

सभी भक्त जानो के लिए इस लॉक डाउन के चलते बिहारी जी की सेवाओं का विशेष व्यवस्था की गयी हे

Our Gallery

There are many photos of our vishva vaishnav sewa sangh journey